dhup ke afsha

चाँद का वज़न कुछ बढ़ा हुआ सा मालूम होता है ,
आज फिजा में तपिश कुछ ज्यादा थी ,
दिन भर धुप के अफशाओ की खुराक ज्यादा हो गयी होगी|H.P.RAHI

अफशा – पकवान |

Leave a Reply

Your email address will not be published.