Tuj bin kaise? kyo? kisliye?

तुज बिन कैसे? क्यों? किसलिए?
वादे पे क्यों? जिए मरे रोये ?
कोई ख्याल , क्यों सताए? किसलिए?
आसू सूखे तो खून क्यों रोये ?

ढूंढा किये समंदर वोह ,
सहराओं में भटके यो ,
बेजा तलाशी आसमान में ,
नोच गिराए तारे क्यों ?

शोले जले , राख हो गए ,
शब् भर जागे , झुलस गए ,
राख मलकर घावो पर ,
झुलसा दिए फिर शोले क्यों ?

H.P.RAHI

Leave a Reply

Your email address will not be published.